• Sat. Apr 20th, 2024

अभिषेक शर्मा :- रमजान के जुमा पर मुस्लिम समाज में भिक्षावृत्ति रोकने व शिक्षा की जागृति का लिया गया संकल्प

BySANAT SHARMA

Mar 22, 2024

हरिद्वार – रुड़की।रमजान के जुमा पर उत्तराखंड पुलिस के डीजीपी अभिनव कुमार के निर्देशानुसार चलने वाले भिक्षा मुक्ति अभियान को लेकर हरिद्वार पुलिस अधीक्षक कार्यालय में तैनात एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट हरिद्वार के संयोजक कांस्टेबल मुकेश कुमार ने आज जुमा की नमाज के फौरन बाद नमाजियों से अपने सम्बोधन में कहा कि उत्तराखंड पुलिस का यह उद्देश्य है की भिक्षा नहीं,शिक्षा अभियान के तहत पूरे जनपद में शिक्षा के प्रति जागरूकता तथा गरीब बच्चों को भीख मांगने से रोकना और उनको पढ़ाई के लिए प्रेरित करना,यही उत्तराखंड पुलिस का उद्देश्य है,जिसके अंतर्गत हमें बहुत सफलता भी मिली है।मुकेश कुमार ने जामा मस्जिद के भीतर नमाजियों को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने पिरान कलियर तथा आसपास के गांवों में अभियान की शुरुआत की,तो लोगों ने बहुत सहयोग किया और लगभग ढाई सौ बच्चों को भिक्षावृक्ति से रोककर उनका स्कूलों में दाखिला कराया।कांस्टेबल मुकेश कुमार ने कहा कि हमारे प्रदेश के डीजीपी अभिनव कुमार का स्पष्ट संदेश है कि प्रत्येक व्यक्ति गरीब बच्चों को भिक्षा न देकर उनको शिक्षा की फीस,उनके इलाज तथा उनके जीवन को सुधारने के लिए जिम्मेदारी ले,तो हमारे समाज से यह भिक्षावृत्ति की बुराई समाप्त हो जाएगी।मुकेश कुमार ने जामा मस्जिद निर्माण समिति के संयोजक इंजीनियर मुजीब मलिक के माध्यम से मुस्लिम समाज में जागरूकता अभियान चलाए जाने का श्री गणेश भी किया।इस अवसर पर भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष इंतजार हुसैन ने कहा की प्रदेश सरकार गरीब बच्चों के लिए निशुल्क भोजन,शिक्षा तथा आवास की व्यवस्था कर रही है।खास तौर से मुस्लिम समाज के लोगों को इस अभियान में अपनी भागीदारी करनी चाहिए।इंजीनियर मुजीब ने कि कहा कि अब जल्द ही नगर के बुद्धिजीवियों की बैठक बुलाकर इस लाभकारी अभियान की जानकारी दी जाएगी तथा इस अभियान में पूर्ण सहयोग किया जाएगा।उत्तराखंड नागरिक सम्मान समिति के महासचिव व शायर अफजल मंगलौरी ने शिक्षा अभियान को मंचों के माध्यम से भी उठाने का वादा किया।इस अवसर पर भाजपा नेता सरफराज अहमद,मोहम्मद शमसी, इमरान देशभक्त,अता उर रहमान अंसारी,मुशीर खान,बिट्टन त्यागी,हाजी लुकमान कुरैशी,अशफाक अली आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *