• Sun. May 26th, 2024

प्रधान संपादक सनत शर्मा:–राजकमल कॉलेज के छात्र पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य:- वैश्विक मुद्दे अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी प्रतियोगिता में रहे अव्वल

BySANAT SHARMA

Dec 8, 2022

राजकमल कॉलेज के छात्र पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य:- वैश्विक मुद्दे अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी प्रतियोगिता में रहे अव्वल
बहादराबाद राजकमल साइंस एंड मैनेजमेंट कॉलेज बहादराबाद, हरिद्वार के छात्र-छात्राओं द्वारा वनस्पति विज्ञान और सूक्ष्म जीव विज्ञान विभाग, गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय (डीम्ड विश्वविद्यालय) हरिद्वार में पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य:¬-वैश्विक मुद्दे पर दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी में कालेज के छात्रों द्वारा प्रतिभाग किया गया
अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी में पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य पर रंगोली, पोस्टर और वर्किंग मॉडल आदि प्रतियोगिता का आयोजन किया गया सेमिनार में कई विश्वविद्यालय तथा महाविद्यालय के छात्र छात्राओं द्वारा प्रतिभाग किया गया
रंगोली प्रतियोगिता में राजकमल कॉलेज की छात्र-छात्राओं को प्रथम व द्वितीय स्थान, पोस्टर प्रतियोगिता में योगिता शर्मा को प्रथम और वर्किंग मॉडल प्रतियोगिता(पायल जोशी, सनी, वंदना, साईबा) प्रथम स्थान व (अनमोल, नबिया, आयशा, आरुषि) को द्वितीय स्थान प्राप्त किया तथा माननीय कुलपति प्रो.सोमदेव शतांशु, गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय (डीम्ड विश्वविद्यालय) हरिद्वार द्वारा सभी छात्रों को प्रमाणपत्र व स्मृति चिन्ह देकर पुरस्कृत किया गया
अंतरराष्ट्रीय सेमिनार के आयोजक सचिव प्रो.मुकेश कुमार,वनस्पति विज्ञान विभाग और माइक्रोबायोलॉजी व संयोजक डॉ. विपिन कुमार, फार्मा विभाग विज्ञान द्वारा राजकमल कॉलेज के छात्रों को शुभकामनाएं दी तथा उनके उज्जवल भविष्य की कामना की उन्होंने कहा कि राजकमल कॉलेज के छात्रों द्वारा रंगोली, पोस्टर और वर्किंग मॉडल आदि प्रतियोगिता में बढ़-चढ़कर भाग लिया
प्रो.मुकेश कुमार व डॉ. विपिन कुमार ने कहा कि प्राचार्य डॉ. राघवेंद्र चौहान के दिशा निर्देशन में राजकमल साइंस एंड मैनेजमेंट कॉलेज निरंतर प्रगति के पथ पर है यह कॉलेज कुछ ही समय में अपनी एक अलग ही पहचान बना चुका है तथा कॉलेज में छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए नित नए कार्यक्रम लगातार आयोजित किए जाते रहते हैं
राजकमल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. राघवेंद्र चौहान ने कहा कि वर्तमान पीढ़ी के छात्रों को नए जमाने की तकनीकों से लैस करने के लिए सेमिनार और वर्कशॉप एक अनिवार्य भूमिका निभाते हैं। ज्ञान संगोष्ठियों और कार्यशालाओं का उचित प्रवाह सुनिश्चित करना छात्रों के कौशल और विशेषज्ञता को बढ़ाने के लिए भावुक बातचीत और सक्रिय भागीदारी में सहायता करता है। छात्रों के लिए सेमिनार और कार्यशालाओं के महत्व को अक्सर एक प्रमुख चिंता के रूप में स्वीकार किया जाता है। छात्रों के लिए सेमिनारों के महत्व और छात्रों के लिए कार्यशालाओं के लाभों को ध्यान में रखते हुए, सेमिनार और कार्यशालाएं आधुनिक शिक्षा की दिशा में एक अभिनव और स्वागत योग्य कदम है।। इसलिए ऐसे सेमिनार और वर्कशॉप समय-समय पर कालेज में कराए जाने चाहिए
रंगोली, पोस्टर और वर्किंग मॉडल में पायल जोशी, अनमोल, प्राची, आयशा, सना, तन्नु, सपना, आयशा, जानवी, राखी, कल्याणी, मीना, तन्नू, हर्ष, वीशु, आकाश, पवन, मोहित, मुस्कान, गायत्री, प्रीति, श्वेता, आकांक्षा, अंजलि, शमा, नबिया, आयशा, आंचल, राखी, कल्याणी, मीना, वंदना, राशि, सलोनी, स्नेहा, अंशिका रावत, पायल, रीता, जसलीन, अंशिका, सोनम, ऋतिका, वैशाली, दिव्यांशी आदि कालेज के छात्रों ने प्रतिभाग किया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *