• Fri. Apr 19th, 2024

प्रधान संपादक सनत शर्मा :-हरिद्वार  में प्लास्टिक मैन्युफैक्चरर्स, प्रोडयूशर, ब्राण्ड ऑनर, आयातक द्वारा यूज किये जा रहे प्लास्टिक, उसकी कुल मात्रा का निर्धारण, उनके रजिस्ट्रेशन एवं इनके द्वारा प्लास्टिक के निस्तारण सभी की देनी होगी जानकारी

BySANAT SHARMA

Dec 5, 2022

हरिद्वार  में प्लास्टिक मैन्युफैक्चरर्स, प्रोडयूशर, ब्राण्ड ऑनर, आयातक द्वारा यूज किये जा रहे प्लास्टिक, उसकी कुल मात्रा का निर्धारण, उनके रजिस्ट्रेशन एवं इनके द्वारा प्लास्टिक के निस्तारण सभी की देनी होगी जानकारी* ।। हरिद्वार : जिलाधिकारी विनय शंकर पांडेय की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में सोमवार को रिट पिटीशन(पीआईएल) संख्या – 93/2020 जितेन्द्र यादव बनाम यूनियन ऑफ इण्डिया एवं अन्य में मा0 उच्च न्यायालय द्वारा पारित आदेशों के अनुपालन के सम्बन्ध में एक बैठक आयोजित हुई।
बैठक में अपर जिलाधिकारी(प्रशासन) पी0एल0 शाह ने रिट पिटीशन(पीआईएल) संख्या-93/2020 जितेन्द्र यादव बनाम यूनियन ऑफ इण्डिया एवं अन्य के सम्बन्ध में मा0 उच्च न्यायालय द्वारा पारित किये गये निर्देशों का विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया।
बैठक में जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने मा० उच्च न्यायालय उत्तराखण्ड नैनीताल के आदेशों का कड़ाई से अनुपालन कराना सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुये कहा कि जनपद हरिद्वार में प्लास्टिक मैन्युफैक्चरर्स, प्रोडयूशर, ब्राण्ड ऑनर, आयातक द्वारा यूज किये जा रहे प्लास्टिक, उसकी कुल मात्रा का निर्धारण, उनके रजिस्ट्रेशन एवं इनके द्वारा प्लास्टिक के निस्तारण हेतु बनायी गयी योजना, निकाय, वन विभाग एवं पंचायती राज विभाग/जिला पंचायत द्वारा प्लास्टिक की रोकथाम, साफ-सफाई की योजना एवं मात्रा का निर्धारण, कूड़ा निस्तारण व चालानों की स्थिति के संबंध में कार्य योजना बनाकर एक विस्तृत रिपोर्ट शपथ पत्र सहित सम्बन्धित अधिकारियों को तीन दिन के भीतर उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि शहरी क्षेत्रों से सटे हुये वन क्षेत्रों के साफ-सफाई आदि की जिम्मेदारी वन विभाग की है। उन्होंने कहा कि वन विभाग ऐसे क्षेत्रों का निरीक्षण करके इन क्षेत्रों में कूड़ा नहीं है, के सम्बन्ध में अपनी रिपोर्ट शपथ पत्र सहित देना सुनिश्चित करे।
जिलाधिकारी ने सालिडवेस्ट मैंनेजमेंट के तहत गांवों की साफ-सफाई, कूड़ा निस्तारण आदि का जिक्र करते हुये डी0पी0आर0ओ0 को निर्देश दिये कि एक पोर्टल तैयार कर लें, जिससे जनपद के सभी गांवों को जोड़ा जाये तथा रोज की साफ-सफाई आदि की फोटो पोर्टल पर अपलोड करने की व्यवस्था की जाये।
बैठक में जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी, छावनी परिषद रूडकी तथा समस्त अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका/नगर पंचायत से डोर-टू-डोर कूड़ा कलक्शन आदि के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी लेते हुये निर्देश दिये कि सालिडवेस्ट का निस्तारण सालिडवेस्ट के मानकों के अनुसार होना चाहिये तथा वर्तमान स्थिति क्या है एवं भविष्य की योजना के सम्बन्ध में भी विस्तृत रिपोर्ट देना सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर अभिनव ज्वाइण्ट मजिस्ट्रेट रूड़की, जिला पंचायत राज अधिकारी अतुल प्रताप सिंह, सुश्री पल्लवी गुप्ता महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र, श्री गिरधर रावत आर0एम0 सिडकुल, सौरभ पवांर आर.ओ, डॉ अजीत सिंह, डॉ शैलजा प्रवीण प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, एस0पी शुक्ला एसएनए नगर निगम रुड़की, साधु लाल एसडीओ फॉरेस्ट, राजेंद्र कुमार नगर पंचायत झबरेड़ा, गौहर हयात नगर पंचायत पिरान कलियर, अजय नारायण खाती नगर पंचायत लक्सर, मो0 अब्दुल्ला एनपी लंढौरा, सुभाष सिंह नगर पंचायत इमलीखेड़ा, विक्रांत शर्मा, डॉ अमित अग्रवाल नगर पंचायत ढ़ंढेरा सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *